Tag : संदीप प्रसाद

साहित्य जगत

‘आज के कवि’ श्रृंखला : संदीप प्रसाद – झूठ ने उसे दिखा-दिखा कर बजाया, लालच का झुनझुना …

My Mirror
आज के कवि ———–—— संदीप प्रसाद हमारे समय के त्रासदी और विसंगतियों को रेखांकित करने वाले कवि हैं। वह छोटा सा फूल जिससे मिलकर प्रफुल्लित...