Latest ताज़ा खबर Politics राजनीति

टिकैट के समर्थन में उत्तर प्रदेश के उतरे किसान आज होगा महापंचायत

नई दिल्ली 29 जनवरी 2021। गाजियाबाद DM के गाजीपुर सड़क को खली करने के आदेश के बाद किसान नेता राकेश टिकैत हुए भावुक और दे दी सरकार को चुनौती,  गाँव के किसानों का किया आह्वान, जारी रहेगा धरना।

दिल्ली पुलिस ने बॉर्डर इलाके में धारा-144 लगाकर अपनी कार्रवाई शुरू कर दी। बॉर्डर पर सुरक्षा बढ़ाकर पुलिस बल की संख्या को बढ़ा दिया गया। वहीं दूसरी ओर गाजीपुर खाली कराने के दौरान दिल्ली व यूपी पुलिस ने एनएच-24 और एनएच-9 को गाजीपुर के पास से बंद कर दिया। इसकी वजह से एनएच-24 पर भारी जाम लग गया। पुलिस ने ट्वीट कर वाहन चालकों से दूसरे रास्तों का प्रयोग करने की सलाह दी।

गाजीपुर में अभी लगभग 1200 किसान मौजूद हैं। यूपी में अभी दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर धरना चल रहा है। वहीं मथुरा और आगरा में चल रहा प्रदर्शन खत्म हो गया है। बरेली, बागपत, नोएडा और बुलंदशहर में भी धरना खत्म हो चुका है। यूपी गेट पर अभी कुछ लोग हैं।  कुछ किसान संगठनों ने स्वेच्छा से चिल्ला बॉर्डर, दलित प्रेरणा स्थल से आंदोलन वापस ले लिया। बागपत में लोगों को समझाने के बाद उन्होंने रात में धरना खत्म कर दिया।

सिसौली किसान भवन में गुरुवार की रात को पंचायत के बाद भारतीय किसान यूनियन के सुप्रीमो और किसान नेता राकेश टिकैत के बड़े भाई नरेश टिकैत ने कहा कि कल सुबह 11 बजे महापंचायत होगी। उन्होंने कहा कि कल स्थित बिगड़े या चाहे कुछ हो किसानों का कोई मतलब नहीं।

दिल्ली में 26 जनवरी को हुई हिंसा के बाद एक-एक कर किसान संगठन अब आंदोलन से किनारा करने लगे हैं। जबकि दूसरी तरफ भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि आंदोलन चलता रहेगा। उन्होंने कहा कि किसान शांति से बैठे हैं, पुलिस गोली चलाकर दिखाए। उधर, दिल्ली के पुलिस कमिश्नर एन.एस. श्रीवास्तव ने कहा कि आने वाले दिन चुनौतीपूर्ण हो सकते हैं, इसलिए सतर्क रहें।

शिरोमणि अकाली दल ने लाल किले पर झंडा लगाने के मामले में किसान नेताओं के खिलाफ देशद्रोह का केस लगाने को लेकर आलोचना की। उन्होंने कहा कि किसानों के शांतिपूर्ण प्रदर्शन को दबाने के लिए यह धारा लगाई गई है।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि एक साइड चुनने का समय है। मेरा फ़ैसला साफ़ है, मैं लोकतंत्र के साथ हूं, मैं किसानों और उनके शांतिपूर्ण आंदोलन के साथ हूं। किसान संगठनों के पक्ष में विपक्ष ने बजट सत्र के अभिभाषण का बायकॉट करने का फैसला किया है।

Related posts

प्रोफेसर ज्यां द्रेज के नेतृत्व में श्री के.के.सोन प्रधान सचिव को ज्ञापन

My Mirror

टिक टाॅक का भारतीय संस्करण हिट टाॅक लांच होने वाला है

My Mirror

जानलेवा ,जल ! दिल्ली की सड़कों पर

My Mirror

Leave a Comment