Articles आलेख

किस देश का पासपोर्ट है सबसे शक्तिशाली : डॉ. मंजू डागर चौधरी

Dr. Manju Dagar Chaudhary

खबर जरा हट के ——- किस देश का पासपोर्ट है सबसे शक्तिशाली ??

डॉ. मंजू डागर चौधरी –

—- जब सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट की बात आती है तब हम सबके जेहन में सबसे पहले शायद अमरीका का नाम आता होगा लेकिन जनाब ये सच नहीं हैं। तब सोचिये कौन सा मुल्क है वो ? आइए जानते हैं दुनिया का कौनसा पासपोर्ट है सबसे शक्तिशाली।

दूसरे विश्व युद्ध के दौरान एटामिक हमला झेलने वाले जापान के पासपोर्ट के पास है दुनिया के सबसे ताकतवर पासपोर्ट होने का खिताब। जी हाँ आपने सही पढ़ा — जापान। अभी हाल ही में 2021 की Henley & Partners की पासपोर्ट इंडेक्स ग्लोबल रैंकिंग में जापान के पासपोर्ट को दुनिया में सबसे शक्तिशाली पाया गया है क्योंकि जापानी नागरिकों को दुनिया के 191 देशों में वीजा ऑन एराइवल की सुविधा मिली हुई है। जबकि दूसरे स्थान पर है सिंगापुर जहां के नागरिकों को 190 देशों में वीजा ऑन एराइवल की सुविधा मिली हुई है। दक्षिणी कोरिया और जर्मनी तीसरे स्थान पर हैं जिन्हें 189 देशों में वीजा ऑन एराइवल मिला हुआ है। ये वही जर्मनी है जहां कभी तानाशाह हिटलर हुआ करता था।

अब आप सोच रहे होंगे जनाब हम भारतीय कहा पर हैं इस सूची में तब आपको बता दूँ कि हम 85 नम्बर पर हैं (आपको वो गाना तो याद ही होगा –लगे 85 झटके ) क्यों हैं इतने नीचे तब ये सवाल आप हमसे नहीं खुद से पूछियेगा ? और हमारा पड़ोसी चीन इसी सूची में 70 वें स्थान पर है और पाकिस्तान का नम्बर 107 वां है इसी सूची में। वहीं दूसरी तरफ दुनिया के केवल 58 देश ही अभी तक भारतीयों को वीजा ऑन एराइवल देते हैं। इस राह में सफर बहुत लम्बा है अभी। तजाकिस्तान हमारे साथ यही 85 वां स्थान साँझा करता है। अमरीका भी अन्य पांच देशों के साथ इस सूची में 7 वें स्थान पर है। अमरिकन्स को 185 देशों में वीजा ऑन एराइवल की सुविधा मिली हुई है।

अब आप सोच रहे होंगे जनाब ये वीजा ऑन एराइवल क्या है ? तब आपको बता दें कि यही वीजा ऑन एराइवल आधार है किसी भी पासपोर्ट की ताकत का। अगर आसान भाषा में कहुँ तो वीजा ऑन एराइवल अधिकतर मित्र देशों को ही दिया जाता है। जहां के नागरिक उनके लिए कोई खतरा नहीं होते हैं और इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन (IATA) इसका डेटा उपलब्ध करवाती है। अब आप खुद ही सोचिये की दुनिया का इकलौता देश जिसने न केवल परमाणु हमला झेला बल्कि विश्व मंच पर शांति और सुरक्षा का परचम भी लहरा रहा है जिसके नागरिक दुनिया के लिए कोई खतरा पैदा नहीं करते। और दूसरी तरफ ——–?? आप सब समझदार हैं इस रिक्त स्थान को भर सकते हैं।

आइये जानते हैं पहले 10 स्थान किन – किन देशों के नाम हैं : 1. जापान, 2. सिंगापुर, 3. जर्मनी, दक्षिण कोरिया, 4. फ़िनलैंड, इटली, लग्जमबर्ग, स्पेन, 5. आस्ट्रिआ और डेनमार्क, 6. फ्रांस, आयरलैंड, नीदरलैंड, पुर्तगाल और स्वीडन, 7. बेल्जियम, न्यूजीलैंड, नॉर्वे, स्विटजरलैंड, यूनाइटेड किंगडम और यूनाइटेड स्टेट्स, 8. ऑस्ट्रेलिया, चेक रिपब्लिक, ग्रीस और माल्टा, 9. कनाडा और 10. हंगरी।
———————————

(AM) Copyright @ Dr. Manju Dagar Chaudhary (Manu Chaudhary)
https://www.facebook.com/manu.chaudhary.716/posts/10225985512892908

Related posts

माड़ भात चोखा का विकल्प

My Mirror

पलामू को समाजवाद की प्रयोगशाला मानते थे डॉ राम मनोहर लोहिया : अभिषेक रंजन

My Mirror

‘वारंङ चिति’ लको बोदरा – दीपक रंजीत

My Mirror

Leave a Comment