ताज़ा खबर राजनीति

कांग्रेस अपने यहाँ खेती बिल लागु न करें : सोनिया गाँधी

कृषि सुधार बिल के विरोध में दिल्ली में किसानों का प्रदर्शन

नई दिल्ली, 29 सितम्बर 2020. एनडीए के खेती बिल का विरोध का मौका कांग्रेस अपने हाथ से किसी भी तरीके से खोना नहीं चाहती है. किसानों से जुड़े इस व्यापक मुद्दा को कांग्रेस सत्ता पर जाने के एक मात्र अवसर के रूप में देख रही है. किस्मत से मिले इस मौके को अगर कांग्रेस खो दी तो संभव है कि देश की जनता से जुड़ने और विश्वास जीतने का मौका दुबारा मिलने ने फिर एक लम्बा वक्त लग जाये. इसलिए कांग्रेस इस में अपने सभी पैंतरे अजमाना चाहती है और अपनी पूरी ताकत के साथ परफॉर्म कर सही समय का उपयोग की रणनीति बना रही है.

किन्तु कांग्रेस के सामने समस्या है कि पंजाब, छत्तीसगढ़, पुदुचेरी और राजस्थान को छोड़ कर बाकि राज्यों से किसानों से जुड़े कृषि सुधार बिल पर सही समर्थन नहीं मिल रहा है. ऐसे में कांग्रेस की नेता सोनिया गाँधी ने कांग्रेस शाषित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से कहा है कि एनडीए के द्वारा लाये गए इस कानून को अपने यहाँ लागु न करें, वे इस कानून को बेअसर करें.

कांग्रेस द्वारा इस कृषि बिल के विरोध में पंजाब से आये युवा कांग्रेस के लोगों ने कल सुबह इन्डिया गेट पर एक कबाड़ ट्रेक्टर को जला दिया था, जिस पर भाजपा के केन्द्रीय नेता और मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए कहा कि कांग्रेस ने प्रचार पाने और किसानों को गुमराह करने के लिए जो नाटक किया है, उससे देश शर्मिंदा है.

प्रकाश जावेडकर के बयां पर पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि ट्रैक्टर जलाना किसानों के गुस्से को दर्शाता है. अगर मेरा ट्रैक्टर है, मैं उसे जलाना चाहता हूँ तो समस्या क्या है ? नया कानून हमारे किसानों के लिए मौत की सजा है. हमारी आवाज़ संसद के अन्दर और बाहर कुचल दी गयी है.

इस बिल के विरोध में कर्नाटक में दलित और कन्नड़ संगठनों ने भी कई कार्यक्रम के साथ एक दिन का बंद बुलाया है.

Related posts

जेल भरो देश बचाओ सत्याग्रह चित्रों में

My Mirror

चांद पर खुदाई की चल रही है तैयारी

My Mirror

Onward movie review: Chris Pratt, Tom Holland and Disney Pixar will make you laugh and cry but not enough

cradmin

Leave a Comment