अंतर्राष्ट्रीय खबरे ताज़ा खबर भारत

नेपाल ने राजनीतिक नक़्शे पर रोक लगाया

नई दिल्ली, 23 सितम्बर 2020. नेपाल ने हाल में ही जब भारत का चीन से सीमा विवाद चल रहा था, तभी अपनी ओर से भी भारत के साथ एक सीमा विवाद खड़ा कर दिया था. जिसमे नेपाल ने कालापानी, लिपुलेख और लिम्पयाधुरा इलाके को भारत का नहीं बल्कि नेपाल का हिस्सा बताया था. और इस सीमा विवाद के बाद नेपाल की ओली सरकार एक पुस्तक “सेल्फ स्टडी मेटारियल ऑन नेपाल्स टेरिटोरी एंड बोर्डेर” नेपाल एजुकेशन मिनिस्टर गिरिराज मणि पोखरियाल ने 15 सितम्बर 2020 को रिलीज़ की. जिसमे भारत के कई इलाकों को भी नेपाल का हिस्सा बताया गया है.

अब नेपाली कैबिनेट का कहना है कि उक्त पुस्तक में कई तथ्यात्मक गलतियाँ हैं और कुछ अनुचित कंटेंट्स भी हैं. नेपाल की लैंड मनेजमेंट मिनिस्ट्री और विदेश मंत्रालय ने इस किताब के कंटेंट पर आपत्ति दर्ज कराई थी. इस पुस्तक में नेपाल एजुकेशन मिनिस्टर ने लिखा है कि किस तरह उन्होंने 24 वर्ष पहले कालापानी, लिपुलेख और लिम्पयाधुरा से भारतीय सेना को हटाने का अभियान चलाया था.

Related posts

ऑक्सफ़ोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा विकसित की गई वैक्सीन से भारत के लिए खुशखबरी।

My Mirror

” कोरोना के चपेट में महानायक “

My Mirror

सुप्रीम कोर्ट की फटकार मंदिर में ई दर्शन दर्शन करना नहीं होता

My Mirror

Leave a Comment