Latest ताज़ा खबर

रक्षाबंधन पर बहन के कहने पर 8 लाख के ईनामी नक्सली भाई ने सरेंडर किया।

 

छत्तीसगढ़ में पालनार की लिंगे के भाई मल्ला ने रक्षाबंधन के त्योहार पर सरेंडर कर दिया, मल्ला पर 8 लाख का इनाम था. सुकमा जिले के मल्ला ने अपनी बहन लिंगे की ही पहल पर सरेंडर किया. मल्ला ने बताया कि बहन और परिवार को देख मन बदला और बहन के कहने पर उसने पुलिस के सामने हथियार डाल दिए

14 सालों के बाद मल्ला घर वालों से मिलने पहुंचा था. परिवार से मिलकर वह वापस जा ही रहा था कि बहन ने उससे सरेंडर करने की अपील की, बहन ने उसे वापस जाने से रोक दिया. बहन उसे पुलिस के पास लेकर पहुंच गई और सरेंडर करा दिया.

यह सबकुछ पुलिस के लोन वर्राटू अभियान के तहत हुआ है. बचपन से ही हिंसा के रास्ते पर चले मल्ला के रक्षाबंधन से दो दिन पहले लौटने पर अफ़सरों ने भी तालियां बजाकर स्वागत किया. एसपी डॉ अभिषेक पल्लव ने इसे लोन वर्राटू अभियान की सफलता बताया और कहा कि मुख्यधारा में लौटने वालों का स्वागत है.

मल्ला ने बताया कि वह वर्तमान में भैरमगढ़ एरिया कमेटी का प्लाटून नंबर 13 का डिप्टी कमांडर था. वह कई बड़ी घटनाओं में शामिल था. बहन के बुलावे पर 14 साल बाद घर लौटा.

मल्ला ने कहा, 14 सालों बाद मेरे हाथों पर मेरी बहन ने राखी बांधी है, मैं बहुत खुश हूं. लिंगे ने बताया कि भाई 12 साल की उम्र में चाचा के पास गया था. मल्ला के चाचा नक्सल संगठन में थे.

Related posts

China responds to report it fired laser at US Navy plane

cradmin

जानलेवा ,जल ! दिल्ली की सड़कों पर

My Mirror

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा कोरोना के चपेट में

My Mirror

Leave a Comment